योगी सरकार ने 15 अगस्त को राष्ट्रगान ना गाने वाले मदरसे की मान्यता की खत्म

0
4

महाराजगंज। उत्तर प्रदेश के महराजगंज में योगी सरकार ने एक मदरसे की मान्यता रद्द कर दी है। १५ अगस्त को मदरसा अरबिया अहले सुन्नत अनवारे तैबा गल्र्स कॉलेज में बच्चों को राष्ट्रगान गाने से रोक दिया गया था। जिसके बाद सरकार ने अरबिया अहले सुन्नत अनवारे तैबा गल्र्स कॉलेज मदरसे की मान्यता रद्द कर दी।
बता दें कि ७२वें स्वतंत्रता दिवस के दिन महाराजगंज के अरबिया अहले सुन्नत अनवारे तैबा गल्र्स कॉलेज मदरसे में ध्वजारोहण के पश्चात मौलाना द्वारा मदरसे में राष्ट्रगान गाने से मना कर दिया गया था। एक शिक्षक ने इस बात का विरोध किया और कहा कि भारत के किसी भी विद्यालय में राष्ट्रगान अनिवार्य है तो राष्ट्रगान यहां भी होगा। इतना ही नहीं जब एक शिक्षक न बच्चों से राष्ट्रगान गाने के लिए कहा कि मौलाना बच्चों को राष्ट्रगान गाने से मना कर दिया था।
मदरसे में राष्ट्रगान गाने पर रोक लगाए जाने को प्राध्यापक और कुछ शिक्षकों ने आपत्ति दर्ज कराई थी। जिसके बाद महाराजगंज के जिलाधिकारी अमरनाथ उपाध्याय ने जिला अल्पसंख्यक कल्याण विभाग के अधिकारी को जांच सौंपी थी। जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी प्रभात कुमार ने बताया कि आपत्ति के बाद आरोपों की जांच के लिए जांच कमेटी गठित की गई थी। कमेटी की जांच रिपोर्ट में आरोप सही पाये गए। जिसके बाद यह कार्रवाई की गई। बता दें, मदरसे के प्राध्यापक फजलल रहमान और कुछ अन्य शिक्षकों ने छात्रों को राष्ट्रगान गाने से रोका था। इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया था। पुलिस ने राष्ट्रद्रोह का मामला दर्ज कर सभी आरोपियों को तत्काल गिरफ्तार कर लिया था।

LEAVE A REPLY