केरल में कई इलाकों में कम हुआ पानी

0
4

कोच्चि। केरल में करीब दो हफ्ते बाद बारिश और बाढ़ से लोगों को राहत मिलती दिखाई दे रही है। केरल के कई इलाकों में पानी कम हुआ है और लोगों को जरूरी चीजें मिलना शुरू हो गई हैं। हालांकि, अभी भी कई ऐसी जगह हैं, जहां हजारों की तादाद में लोग फंसे हैं और उनको निकालने का काम सेना और एनडीआरएफ की टीम कर रही है।
सोमवार को ६ लोगों की मौत की खबर आई थी। जबकि, राज्य में २९ मई को आई पहली बाढ़ के बाद मरने वालों की संख्या बढ़कर ४०० के करीब पहुंच गई है। वहीं राज्य में ५६४५ राहत शिविरों में १० लाख से अधिक लोग रहने को मजबूर हैं। राज्य में राहत और बचाव कार्य युद्धस्तर पर चलाया जा रहा है। केरल की मदद को केंद्र सरकार से लेकर तमाम राज्य आगे आए हैं।
वित्त मंत्रालय ने केरल में बाढ़ पीड़ितों की सहायता के लिए भेजे जाने वाले सामान पर सीमाशुल्क और आईजीएसटी नहीं लगाने का फैसला किया है। ये छूट ३१ दिसंबर, २०१८ तक रहेगी। इस बारे अधिसूचना जारी की जा सकती है। इस अधिसूचना को बाद में जीएसटी परिषद की मीटिंग में रखा जाएगा।
पीटीआई के सूत्रों ने मुताबिक, वित्त मंत्रालय ने केरल के लोगों की मदद और पुनर्वास के लिए भेजे जाने वाले सामान पर सीमा शुल्क और आईजीएसटी की छूट देने का प्रस्ताव किया है।
केरल के मुख्यमंत्री पिनरई विजयन ने सोमवार को कहा कि राज्य में १० लाख से ज्यादा लोग इस समय ३,२७४ राहत शिविरों में शरण लिए हुए हैं। इस बीच पिछले एक हफ्ते से तबाही मचा रही बारिश फिलहाल रुक गई है।
मुख्यमंत्री ने मीडिया को बताया कि डूब रहे कुल ६०२ लोगों को बचा लिया गया है।

LEAVE A REPLY