राम मंदिर के लिए हम कानून भी ला सकते हैं : मौर्य

0
6

नई दिल्ली। राम मंदिर के मामले में भाजपा की ओर से बड़ा बयान आया है। उत्तरप्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा है कि अगर जरूरत पड़ी तो हम राम मंदिर के लिए संसद से कानून पास कर सकते हैं। २०१९ में लोकसभा चुनाव होने वाले हैं। भाजपा की यूपी में राजनीति राममंदिर के इर्द गिर्द घूमती है, ऐसे में उपमुख्यमंत्री का ये बयान कई मायनों में अहम है। हालांकि अभी भाजपा के दूसरे बड़े नेताओं ने इस पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है। उधर भाजपा के बलिया विधायक सुरेंद्र सिंह ने कहा है कि सरकार जिस तरह एससी एसटी एक्ट के लिए विधेयक लाई है, उसे राम मंदिर के लिए भी ऐसा ही विधेयक लाना चाहिए।
केशव प्रसाद मौर्य ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि, हमें पूरा भरोसा है कि इस मामले में सुप्रीम कोर्ट का फैसला जल्द आएगा। राम मंदिर के निर्माण में जो भी बाधाएं हैं, वह पूरी तरह समाप्त होंगीं। या तो इस मामले में फैसला जल्द आ जाएगा या फिर हम बातचीत से मामला सुलझा लेंगे। लेकिन हमारे पास तीसरा विकल्प भी है। हम इसके लिए संसद से कानून भी पास करा सकते हैं। लोकसभा में हमारे पास बहुमत है।
केशव प्रसाद मौर्य ने कहा, इस मामले में दो विकल्प हैं। दोनों समाप्त होने के बाद हम तीसरे विकल्प पर हम जाएंगे। अगर उसके पहले हम तीसरे विकल्प पहुंचते हैं तो कांग्रेस विरोध करेगी, क्योंकि वह कोर्ट में भी हमारा विरोध कर रही है। हम चाहते हैं कि जल्द से जल्द कोर्ट से फैसला हो जाए या आपसी सहमति से बात बन जाए।

LEAVE A REPLY