देवभूमि में धूमधाम से मनाया गया आजादी का जश्न

0
46

देहरादून। उत्तराखंड की राजधानी देहरादून सहित पूरे राज्य में आज स्वतंत्रता दिवस की 72वीं वर्षगांठ धूमधाम से मनाई गयी। इस अवसर पर मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने परेड ग्राउंड में आयोजित कार्यक्रम में ध्वजारोहण किया तथा प्रदेशवासियों को स्वतंत्रता दिवस की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि उनकी सरकार प्रदेश के विकास के लिए प्रतिबद्व है।
मुख्यमंत्री ने अपने संबोधन में कहा कि वह स्वतंत्रता संग्राम के उन वीर सेनानियों को नमन करते हैं जिनके त्याग और बलिदान से आज हम स्वतंत्रता की आबोहवा में सांस ले रहे हैं। उन्होनें कहा कि मैं इस अवसर पर देश के उन शहीदोें और वीर सपूतों को नमन करता हूं जो देश की सीमाओं की सुरक्षा के लिए अपना खून पसीना बहा रहे हैं। उन्होनें कहा कि उनके कारण ही उत्तराखण्ड को वीरों की भूमि कहा जाता है।
मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि उनकी सरकार के कार्यकाल में प्रदेश ने अपेक्षित विकास किया है। सत्ता संभालने ेके साथ ही उन्होनें भ्रष्टाचार के खिलाफ जो लड़ाई शुरू की थी उसका असर अब दिखने लगा हैै। भ्रष्टाचार पर सरकार भी जीरो टालरेंस नीति का उल्लेख करते हुए उन्होनें कहा कि अब तक प्रकाश में सभी बड़े घोटालों की निष्पक्षता से जांच जारी है तथा भ्रष्टाचारी लोगों को जेल भी भेेजा जा रहा है। उन्होनें एक बार फिर साफ किया कि किसी भी भ्रष्टाचारी को बख्शा नही जाएगा चाहे वह कितना ही प्रभावशाली क्यों न हो। उन्होनें कहा कि राज्य में प्रति व्यक्ति आय में 16,177 की वृद्वि हुई है। वहीं राज्य का जीडीपी भी तेजी से बढ़ रहा है और 6-07 प्रतिशत हो गया है। उन्होनें कहा कि उत्तराखण्ड प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के न्यू इंडिया विजन पर तेजी से बढ़ रहा हैै। ऑलवेदर रोड निर्माण और ऋषिकेश कर्णप्रयाग रेलमार्ग का काम शुरू हो चुका है। उडान योजना के तहत पहले चरण में पिथौरागढ़, चिन्यालीसौड, गौचर, हल्द्वानी व सहस्त्रधारा से हवाई सेवाएं शुरू होने जा रही है। उन्होनें कहा कि प्रधानमंत्री की आयुष्मान भारत योजना के तहत प्रदेश के सभी सत्ताइस लाख परिवारों को पांच लाख रूपये तक के इलाज की सुविधा सरकार द्वारा उपलब्ध कराई जा रही है।
इस अवसर पर अनेक सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन भी किया गया तथा मुख्यमंत्री द्वारा उत्कृष्ट सेवाएं प्रदान करने वाले पुलिस कर्मियों को भी मेडल देकर पुरस्कृत किया गया। उधर राज्यपाल के- के- पॉल द्वारा भी राजभवन में ध्वजारोहण और पौधारोपण किया गया। उन्होनें कहा कि देश व प्रदेश के सभी लोगों को प्रगति के इस सफर में सहभागी बनना चाहिए। उन्होनें स्वच्छता की तरफ ध्यान देने की जरूरत बताते हुए कहा कि स्वच्छता से ही स्वस्थ भारत का निर्माण होगा।

LEAVE A REPLY