मुस्लिम टोपी से क्यों बचते हैं पीएम: थरूर

0
5

नई दिल्ली। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और सांसद शशि थरूर ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के टोपी न पहनने पर टिप्पणी की है। थरूर ने पीएम मोदी से सवाल किया है कि वह देश-विदेश का हर परिधान पहनते हैं तो मुस्लिम टोपी से क्यों बचते हैं? हिंदू तालिबान वाले बयान के बाद कांग्रेस नेता शशि थरूर ने यह बयान दिया है। थरूर तिरुवनंतपुरम में नफरत के खिलाफ खड़े होने विषय पर आयोजित एक सेमीनार में बोल रहे थे। इस दौरान उन्होंने पीएम मोदी और राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ से लेकर सामाजिक कार्यकर्ता स्वामी अग्निवेश के साथ बदसलूकी करने वालों की जमकर आलोचना की।
इस दौरान थरूर ने कहा कि पीएम मोदी दुनिया भर में घूमते हैं। जहां वह अलग-अलग तरीके के कपड़े पहनते हैं। थरूर ने कहा कि पीएम मोदी देश-विदेश का हर परिधान पहनते हैं तो मुस्लिम टोपी से क्यों बचते हैं इतना ही नहीं शशि थरूर पीएम मोदी के कपड़े के रंगों पर भी सवाल उठाया। उन्होंने कहा कि पीएम मोदी को कभी किसी ने हरे रंग के कपड़े पहने नहीं देखा होगा। हाल में बीजेपी युवा मोर्चा और बजरंग दल कार्यकर्ताओं की बदसलूकी का सामना करने वाले सामाजिक कार्यकर्ता स्वामी अग्निवेश भी इस सेमिनार में शामिल हुए। थरूर ने उनका समर्थन करते हुए स्वामी विवेकानंद की याद दिलाई। उन्होंने कहा कि वर्तमान भारत में स्वामी विवेकानंद होते तो वे स्वामी अग्निवेश पर हमला करने वाले गुंडों के निशाने पर भी होते।
इस दौरान शशि थरूर ने मोदी कार्यकाल में दंगों का आंकड़ा भी सामने रखा। उन्होंने दावा किया, चार साल के मोदी शासन काल में २९२० दंगे हुए। इन दंगों में ३८९ लोगों की हत्या हुई और ८ हजार से ज्यादा लोग घायल हुए। शशि थरूर ने मोदी सरकार पर ये भी आरोप लगाया कि पिछले ४ साल में गोरक्षा के नाम पर जमकर हिंसा हुई है। उन्होंने दावा किया कि ९० फीसदी अपराध बीजेपी शासित प्रदेशों में हुए हैं।

LEAVE A REPLY