गोहरी माफ़ी गांव जलमग्न

0
9

घरों में घुसा पानी, सड़कें व खेत डूबे
एसडीआरएफ ने बचाया बाढ़ प्रभावितों को

देहरादून। हरिद्वार के रायवाला में बीती रात सौंग नदी में अचानक आये भारी पानी के कारण गोहरी माफी गांव जलमग्न हो गया। सूचना पर पहुंची एसडीआरएफ की टीम ने बाढ़ में फंसे एक व्यक्ति और पांच गोवंश को कडी मशक्कत के बाद बचाने में सफलता हासिल की लेकिन गांव के 70-80 घरों में पानी घुस गया है जिससे 400 से अधिक परिवार प्रभावित हुए हैं।
प्राप्त जानकारी के अनुसार रात 3- 4 के करीब पूर्व ग्रामप्रधान संजय पोखरियाल द्वारा रायवाला पुलिस को गांव में बाढ़ का पानी घुस आने की सूचना दी गयी। गोहरी गांव गंगा और सौंग नदी के बीच बसा हुआ है एक तरफ गंगा इस वक्त उफान पर है तो वहीं बीती रात सौंग नदी ने भी रौद्र रूप धारण कर लिया। रात के दो बजे गांव में पानी घुसने से अफरा तफरी का माहौल पैदा हो गया। अचानक आए इस बेहिसाब पानी ने खेत, खलिहान और रास्तों को अपनी चपेट में ले लिया ऐसी स्थिति मेंं लोगों के पास घर छोड़कर भागने का भी विकल्प नही बचा।
बाढ़ की सूचना मिलने पर एसडीआरएफ की टीम मौके पर पहुंची और बाढ़ से घिरे लोगों को बाहर निकाला। गांव में 400 के करीब परिवार रहते हैं जो इस बाढ़ से मुसीबत में फंसे हुए हैं। ग्रामीणों का कहना है कि सभी रास्ते बंद हो चुके हैं सड़कें व खेत डूब चुके हैं तथा बिजली भी गुल है ग्रामीणों में किसी भी प्रशासनिक अधिकारी के गांव तक न पहुंचने से नाराजगी है। उल्लेख् में है कि बीते दिनों भी रायवाला पुलिस ने बाढ़ में फंसी एक महिला को रेस्क्यू कर उसकी जान बचाई थी।

24 घंटे आफत का अलर्ट 

देहरादून। सूबे की नदियां उफान पर हैं। तटवर्ती इलाकों के लोग बाढ़ के भय से सहमें हुए हैं पहाड पर भूस्खलन व भूधंसाव से सड़कें बाधित हैं। ऐसी स्थिति में एक बार फिर मौसम विभाग ने आगामी 24 घंटे में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया गया है जो लोगों की परेेशानियों को और भी अधिक बढ़ा सकता है। मौसम विभाग के निदेशक डॉ- विक्रम सिंह का कहना है कि आने वाले 24 घंटो में राजधानी सहित कई हिस्सों में भारी बारिश हो सकती है। शासन द्वारा मौसम विभाग की चेतावनी को गंभीरता से लेते हुए सभी जिलाधिकारियों को एडवाइजरी जारी कर दी गई हैै। लोगों को नदियों से दूर रहने और यात्र के दौरान एहतियात बरतने को कहा गया है। खासकर कुमांउ मंडल के कुछ जनपदों में इस दौरान भारी बारिश और नुकसान की संभावना जताई गयी है।

LEAVE A REPLY