अल्पसंख्यक व दलित उत्पीडऩ बंद हो: शहर-ए-मुफ्ती

0
8

संवाददाता
देहरादून। धर्म के ठेकेदारों द्वारा अगर अल्पसंख्यक व दलित समाज का उत्पीड़न बंद नहीं किया गया व केन्द्र/राज्य सरकार तथा पुलिस द्वारा इनके खिलाफ कोई कार्यवाही नहीं की गयी तो मुस्लिम सेवा संगठन आंदोलन के लिए बाध्य होगा।
प्रैस क्लब में आयोजित पत्रकार वार्ता के दौरान यह बात आज शहर-ऐ- मुफ्रती सलीम अहमद ने कही। उन्होंने कहा कि आज सारे देश में अल्पसंख्यक व दलित समाज डर के साये में जीने को मजबूर है। अभी हाल में ही गौ रक्षा के नाम पर एक व्यक्ति की हत्या का प्रकरण भी सामने आया था और अब उत्तराखण्ड जैसे शांत प्रदेश में भी धर्म के ठेकेदारों की नजर लग चुकी है। अभी पिछले दिनों टिहरी जिले के घनसाली में अल्पसंख्यक समाज के एक युवक की गलती का खामियाजा पूरे अल्पसंख्यक समाज के लोगों को चुकाना पड़ा।
धर्म के ठेकेदारो ने इस मामले में सदियों से रह रहे बेकसूर अल्पसंख्यक समाज के लोगों की दुकानों में तोड़ फोड़ को अंजाम देकर उन्हे घर छोड़कर भागने पर मजबूर कर दिया। कहा कि केन्द्र सरकार, राज्य सरकार व पुलिस प्रशासन ने ऐसे लोगों के खिलाफ कार्यवाही नहीं की तो मुस्लिम सेवा संगठन आंदोलन के लिए बाध्य होगा।

LEAVE A REPLY