पेंसिल आईलाइनर के फायदे और नुकसान

0
6

आंखों के मेकअप की बात चले तो आईलाइनर की बात सबसे पहले आती है. लगभग सभी युवतियां किसी न किसी तरह का लाइनर इस्तेमाल करती हैं. कई बार बहुत सारे प्रोडक्ट्स में से अपने लिए सही प्रोडक्ट का चयन मुश्किल हो जाता है. इस मुश्किल को कुछ आसान करने के लिए हम आपसे बांट रहे हैं लिच्डि और पेंसिल आईलाइनर के कुछ फायदे और नुकसान ताकि आप तय कर सकें कि आपके लिए कौन सा लाइनर सही है. पेंसिल लाइनर लगाना बहुत आसान होता है. ये लंबे समय तक चलता है. ये दिन के समय लगाए जाने पर भी ज्यादा लाउड नहीं लगता है और इसे सूखने में बिल्कुल वक्त नहीं लगता है. वहीं इसके कई नुकसान भी हैं. जैसे ये दिखने में बहुत अलग या खूबसूरत नहीं लगता है. ये न तो स्मज-प्रूफ होते हैं और न ही वॉटर प्रूफ. इस लाइनर से आंखों की खूबसूरती बढ़ जाती है. सबसे अच्छी बात ये है कि ये आईलाइनर एक ही स्ट्रोक में डार्क लाइन बना देता है. लंबे समय तक टिका रहता है. कैट-आई-लुक के लिए लिच्डि लाइनर का इस्तेमाल करें. हालांकि इसे बहुत ही सावधानी से लगाने की जरूरत होती है. इन आईलाइनर के अलावा जेल लाइनर्स और फैल्ट-टिप लाइनर भी होते हैं. इन दिनों फैल्ट-टिप आईलाइनर ज्यादा पसंद किए जा रहे हैं क्योंकि ये लिच्डि और पेंसिल लाइनर की मिली-जुली चलिटी रखते हैं. इन्हें लगाना आसान है और ये लिच्डि लाईनर की तरह दिखते हैं. (आरएनएस)

LEAVE A REPLY