पट्टेधारियों पर अतिक्रमण की आंच, कई घर बेघर होने की कगार पर

0
429

देहरादून। हाईकोर्ट के आदेशों के मद्देनजर जहां एक तरफ सरकार द्वारा अतिक्रमण हटाओ अभियान चलाया जा रहा है तो वहीं दूसरी ओर सरकार इस अभियान के चलते सरकारी योजना के तहत लोगों को रहने के लिए दी गयी पट्टे की जमीन पर स्वंय उनका घर उजाड़ने की तैयारी में है। सरकार की इस कार्यवाही से सरकारी योजना के तहत दिये गये पट्टेधारियों पर भी अब इसका खतरा मंडराने लगा है।
बता दें कि दून में इन दिनों हाईकोर्ट के आदेशों के तहत अतिक्रमण हटाओं अभियान चलाया जा रहा है। इस अभियान में अभी तक जहां हजारों अतिक्रमण हटाये जा चुके है तो वहीं अब इस अभियान का खतरा उन परिवारों पर भी मंडराने लगा है जिन्हे कि सरकारी योजना के तहत पट्टे पर जमीन दी गयी थी। प्रेमनगर थाना क्षेत्र के मिठ्ठी भेड़ी इलाके में ऐसा ही मामला सामने आया है। जहां इसं अभियान के तहत जब प्रशासनिक अधिकारियों ने कुछ मकानों पर निशान लगाने शुरू किये तो वहां के लोग सकते में आ गये। लोगों का कहना था कि उन्हे वह जमीन सरकार द्वारा सरकारी योजना के तहत नसबंदी कराने के एवज में दी गयी है। उन्होने बताया कि उस जमीन में वह वर्षो से मकान बनाकर रह रहे है। वहीं दूसरी ओर प्रशासनिक अधिकारी उनकी बात मानने को तैयार नहीं है। उन्होने क्षेत्र के करीब 23 घरों को इस अभियान के तहत चिन्हित कर लिया है। देखना होगा कि सरकार अतिक्रमण हटाओं अभियान के तहत खुद सरकारी योजना के तहत दिये गये पट्टों की जमीन को भी अतिक्रमण मानती है या फिर इन पट्टेधारियों को कुछ राहत देती है।

LEAVE A REPLY