केंद्रीय मंत्री की लोगों को सलाह, विजय माल्या की तरह बनो स्मार्ट

0
9

आप विजय माल्या को गाली देते हैं। लेकिन कौन है विजय माल्या? वह एक स्मार्ट व्यक्ति है। उसने कुछ अक्लमंद लोगों को काम पर रखा और फिर उसने बैंक वालों, नेताओं और सरकार पर अपनी पकड़ बनाई। ये कहना है केंद्र सरकार में जनजातीय मामलों के मंत्री जुएल उरांव का।
भगोड़े शराब कारोबारी विजय माल्या को स्मार्ट बताते हुए केन्द्रीय मंत्री जुएल उरांव ने आदिवासियों को सक्सेसफुल बिजनेसमैन बनने और बैंक से कर्ज लेने के लिए पहले स्मार्ट बनने की सलाह दी है।
विगत दिवस जुएल उरांव हैदराबाद में आयोजित पहली राष्ट्रीय जनजातीय उद्यमी सम्मेलन २०१८ को संबोधित कर रहे थे। इसी दौरान उन्होंने आदिवासी समुदाय के लोगों को स्मार्ट बनने और आरक्षण का फायदा उठाने की बहुत सारी सलाह दे डाली। सिर्फ हार्ड वर्कर मत बनो, स्मार्ट वर्कर बनो। आप लोग विजय माल्या की आलोचना करते हैं। लेकिन विजय माल्या क्या है? वह बुद्धिमान है। उसने कुछ बुद्धिमान लोगों को नौकरी पर रखा। उसने यहां और वहां बैंककर्मियों, राजनेताओं , सरकार के साथ इधर उधर किया। उसने (माल्या) उन्हें खरीदा। किसने आपको (स्मार्ट होने से) रोका है ? सिस्टम को प्रभावित करने से आदिवासियों को किसने रोका है? किसने आपको बैंककर्मियों को प्रभावित करने से रोका है।
उन्होंने कहा कि अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के लोगों को शिक्षा, नौकरियों और राजनीति में आरक्षण मिला हुआ है, लेकिन नुकसान यह है कि ज्ञान और टैलेंट के संदर्भ में उनके साथ दूसरों के बराबर व्यवहार नहीं किया जाता है।

LEAVE A REPLY