अगर दिल्ली पीडीपी को तोडऩे की कोशिश करेगी तो होंगे खतरनाक नतीजे: महबूबा

0
4

जम्मू। जम्मू एवं कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने कहा कि केंद्र अगर जोड़-तोड़ की राजनीति करेगी तो १९९० के जैसे हालात होंगे। महबूबा मुफ्ती ने कहा कि पीडीपी को तोड़ने की कोशिश हुई तो परिणाम खतरनाक होंगे। महबूबा ने कहा कि अगर दिल्ली १९८७ की तरह लोगों के वोटिंग राइट्स को खारिज करने, कश्मीर के लोगों को बांटने की कोशिश करेगी तो खतरनाक हालात पैदा होंगे। महबूबा ने कहा कि तब जिस तरह एक सलाउद्दीन और यासीन मलिक पैदा हुए थे, इसबार हालात और भी खराब होंगे। जम्मू कश्मीर बीजेपी अध्यक्ष रविंद्र रैना ने कहा है कि महबूबा का बयान काफी आपत्तिजनक है। उन्होंने कहा कि बीजेपी किसी तोड़फोड़ की प्रक्रिया में नहीं लगी है। बता दें कि जम्मू-कश्मीर में सरकार गिरने के बाद पीडीपी के कुछ विधायकों ने बागी रुख अपना लिया है। वहीं पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती की सार्वजनिक तौर पर अलोचना करने वाले नेताओं पर कार्रवाई शुरू कर दी है। गुरुवार को बांदीपुरा जिला अध्यक्ष के पद से विधान परिषद सदस्य यासिर रेशी को बर्खास्त कर दिया है। विधान परिषद सदस्य रेशी पीडीपी के उन नेताओं में से एक हैं जिन्होंने पिछले महीने पीडीपी-बीजेपी सरकार गिरने के बाद पार्टी नेतृत्व के खिलाफ बगावत कर दी थी।

LEAVE A REPLY