ध्वस्तीकरण का काम फिर शुरू

0
42

देहरादून। मानसूनी आपदा के कारण एक दिन के विराम के बाद आज राजधानी दून में फिर तेजी से अतिक्रमण हटाने का काम किया गया। आज जिन क्षेत्रें में अतिक्रमण हटाया गया। उसमें चकराता रोड के ब्रह्मणवाला और सहस्रधारा रोड और रिंग रोड से अतिक्रमण हटाने का अभियान चलाया गया।
हाईकोर्ट के आदेश पर राजधानी देहरादून में अतिक्रमण के खिलाफ पिछले तीन सप्ताह से कार्रवाई की जा रही है। शासन द्वारा अब तक साढे तीन हजार से अधिक अतिक्रमण चिन्हित किए जा चुके हैं। तथा 2000 से अधिक छोटे बडे़ अतिक्रमणों को तोड़ा जा चुका है। शासन द्वारा इस काम के लिए आठ टीमें बनाई गई हैं। जो चिन्हीकरण और ध्वस्तीकरण का काम कर रही हैं। इन टीमों द्वारा अलग-अलग क्षेत्रें में हर रोज अतिक्रमण के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है। बीते कल भारी बारिश के कारण पूरा प्रशासनिक अमला राहत कार्यों में जुटा रहा था। जिसके कारण ध्वस्तीकरण का काम नहीं हो सका था। लेकिन चिन्हीकरण का काम जारी रहा था।
आज सुबह एक बार फिर लाब लक्सर के साथ ध्वस्तीकरण टीमों ने अलग-अलग क्षेत्रें में जाकर अतिक्रमण हटाने का काम शुरू कर दिया। इन क्षेत्रें में एक दिन पहले नोटिस दिए जा चुके हैं। आज ध्वस्तीकरण का काम जारी है। पल्टन बाजार में विरोध के कारण अभी ध्वस्तीकरण का काम शुरू नहीं हो सका है। संभवतः कल से यहां ध्वस्तीकरण का काम किया जाएगा। पलटन बाजार में चिन्हीकरण की प्रक्रिया को लेकर व्यापारियों द्वारा धरना-प्रदर्शन किया जा रहा है। यही नहीं नगर निगम द्वारा रिस्पना और बिंदान के किनारे बसी अवैध बस्तियों में भी नोटिस जारी किए जा रहे हैं। जिनसे तीन सप्ताह में अपना पक्ष रखने को कहा गया है।

LEAVE A REPLY