‘आप’ ने की शिक्षिका के स्थानांतरण की मांग

0
4

देहरादून। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के जनता दरबार में फरियादी शिक्षिका के निलंबन व गिरफ्रतारी के आदेश दिए जाने का आप ने कड़े शब्दों में निंदा की है। आज आप पार्टी के एक प्रतिनिधिमंडल ने उत्तरा पंत बहुगुणा के ओल्ड सर्वे रोड स्थित आवास पर उनसे मुलाकात की।
आम आदमी पार्टी की प्रदेश संचालन संचालन समिति के अध्यक्ष नवीन पिरशाली ने इस घटना की कड़े शब्दों में निंदा करते हुए मीडिया को जारी बयान मेें कहा कि देवभूमि उत्तराखण्ड में एक महिला शिक्षिका के साथ हुई इस कार्यवाही ेने फिर से यह साबित कर दिया है कि महिला सशक्तिकरण की बात करने वाली भाजपा और इसके नेताओं की मानसिकता असल में महिला दमनकारी व महिला विरोधी है। उन्होेंने सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि भाजपा सरकार की तबादला नीति प्रक्रिया पैसे के आपसी लेनदेन व भ्रष्टाचार का माध्यम बन चुकी है। कहा कि मुख्यमंत्री द्वारा महिला के विरोध में लिया गया तबादले का फैसला असंवेदन शील, असंवैधानिक व अलोकतांत्रिक है।
उन्होंने मांग की है कि शिक्षिका उत्तरा पंत बहुगुणा के निलंबन को तत्काल रद्द करते हुए मानवीय आधार पर उनकी स्थानांनतरण की मांग पर उचित निर्णय लिया जाए। इस अवसर पर उमा सिसौदिया, राजेश बहुगुणा, विशाल चौधरी, शैलेश तिवारी सहित कई कार्यकर्ता शामिल रहे।

LEAVE A REPLY