चीन ने भारत पर लगाया घुसपैठ व शांति भांग करने का आरोप

0
135

बीजिंग। चीन ने भारत पर आरोप लगाया है कि उसने चीन के अधिकार वाले क्षेत्र में हो रहे निर्माण कार्य को रोककर उसकी संप्रभुता का उल्लंघन किया है। चीन का कहना है कि भारत के इस कदम ने गंभीर रूप से दोनो देशों के बीच सीमा पर मौजूद शांति और स्थिरता को नुकसान पहुंचाया है। चीन के रक्षा मंत्रालय की ओर से एक बयान जारी किया है।

सिक्किम में निर्माण कार्य वाली घटना के अलावा नाथुला के रास्ते कैलाश मानसरोवर जाने वाले तीर्थ यात्रियों के लिए भी चीन ने बॉर्डर का गेट खोलने से मना कर दिया था। चीन ने इसके पीछे सुरक्षा कारणों का हवाला दिया था। चीन के रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता रेन ग्घ्यूकियांग ने कहा है कि हाल ही में चीन ने डोंगलांग क्षेत्र में सड़क का निर्माण कार्य शुरू किया लेकिन इसे भारतीय सेना ने एलएसी पार करके रोक दिया था।

ग्यूकियांग ने कहा, सिक्किम में चीन और भारत की सीमा एतिहासिक तौर पर चिन्हित की जा चुकी है। भारत की आजादी के बाद से भारत की सरकार ने लगातार इस बात की लिखित पुष्टि की है कि दोनों देशों को सिक्किम सीमा से कोई एतराज नहीं है। उन्होंने कहा कि चीन के लिए इस सड़क का निर्माण पूरी तरह से संप्रभुता के तहत अपनी ही सीमा में किया जा रहा था।

LEAVE A REPLY