मैराथन दौड़ पर जीत पक्की

0
129

सरकार के 100 दिन के काम पर बोले सीएम

हमारे संवाददाता
देहरादून। उत्तराखण्ड के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत भले ही अपनी सरकार के धीमे काम काज की रफ्तार से संतुष्ट हों और अपनी नाकामियों पर यह कह कर पर्दा डाल रहे हों कि मैराथन दौड़ लगानी है जिसकी रफ्तार कम हो सकती है लेकिन उनकी सरकार की दिशा व दशा बिलकुल सही है। सौ दिन का समय बहुत कम होता है उन्होने जो काम शुरू किये है भविष्य में उनके अच्छे परिणाम दिखाई देंगे।

सीएम त्रिवेन्द्र सिंह रावत का कहना है कि भ्रष्टाचार उनकी नजर में राज्य की सबसे बड़ी समस्या है। लोकायुक्त व ट्रांसफर एक्ट में देरी और कमजारी पर त्रिवेन्द्र सिंह रावत का कहना है कि उनकी सोच तो यह है कि लोकायुक्त की जरूरत ही नहीं होनी चाहिए। उन्होने कहा कि मै चाहता हूं की एक व्यवस्था ऐसी होनी चाहिए कि भ्रष्टाचार की बीमारी ही न रहे जब बीमारी नहीं होगी तो दवा की भी कोई जरूरत नहीं रह जायेगी।

सीएम त्रिवेन्द्र सरकार का कहना है कि उनकी सरकार शिक्षा व स्वास्थ्य के क्षेत्रों में विशेष ध्यान दे रही है। स्कूलों में शिक्षक की तैनाती व चिकित्सालयों में डाक्टर उपलब्ध् हों व दवाएं उपलब्ध् हों यही उनकी प्राथमिकता है। उन्होने कहा कि पहले अस्पतालों में 143 दवांए मिलती थी अब 750 दवाएं उपलब्ध् है। उन्होने कहा कि सरकार अपना काम कर रही है स्वच्छ भारत अभियान के तहत राज्य को खुले में शौच से मुक्त किया जाना बड़ी उपलब्धि है । उन्होने कहा कि केन्द्र सरकार का पूरा सहयोग राज्य के विकास में मिल रहा है।

एनएच घोटाले की जांच पर यू टर्न लेने के मामले में उनका कहना है कि कोई यू टर्न नहीं लिया गया है। जांच होगी और अंजाम तक पहुंचेगी इंतजार कीजिए। उन्होने कहा कि स्मार्ट सिटी के लिए दून को सूची में शामिल किये जाने पर पांच सालों में राज्य में इतने विकास कार्य होगें जितने बीते 15 सालों में भी नहीं हुए होगें। विपक्ष द्वारा 100 दिन के कार्यकाल की नाकामियों पर उन्होने कहा कि हमारी दौड़ धीमी हो सकती है लेकिन हम मैराथन दौड़ पर है और इसमें जीतेंगे भी।

LEAVE A REPLY