आईएस ने मोसुल की प्रसिद्ध नूरी मस्जिद को विस्फोट से उड़ाया

0
90

बगदाद। आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट ने मोसुल की प्रसिद्ध झुकी हुई मीनार और उससे जुड़ी मस्जिद को विस्फोट से उड़ा दिया। यहीं वह मस्जिद है जहां पर आईएस नेता अबू बकर अल बगदादी साल २०१४ में पहली बार लोगों के सामने पेश हुआ था और उसने खिलाफत की घोषणा की थी।

आईएस के एक शीर्ष कमांडर अब्दुलमीर याराल्लाह ने एक बयान में कहा कि हमारे जिहादी पुराने शहर में अंदर तक उनके ठिकानों की ओर बढ़ रहे हैं और जब वे नूरी मस्जिद के ५० मीटर के दायरे में घुस गए तो आईएस ने नूरी मस्जिद और हदबा को उड़ा कर एक और ऐतिहासिक अपराध किया। इराकी शहर मोसुल में पिछले चार दिनों भयंकर लड़ाई छिड़ी हुई है।

१९ जून को इराकी अधिकारियों ने मोसुल को पूरी तरह अपने कब्जे में लेने के लिए हमले की शुरुआत करने के बाद पर्चा गिराकर आम लोगों को दूर में रहने की सलाह दी है और जिहादियों को आत्मसमर्पण करने या मरने की चेतावनी दी है। पुराने शहर को इस्लामिक स्टेट समूह के कब्जे से पूरी तरह से अपने नियंत्रण में लेने के लिए इराकी बलों ने कुछ दिनों पहले हमले किए थे।

इराकी कमांडर के अनुसार जिहादी कड़ा प्रतिरोध दिखा रहे हैं और उनकी चिंता १००,००० से अधिक लोगों को लेकर है, जिनके अब भी शहर में होने की संभावना है।

LEAVE A REPLY