नींबू में समाएं औषिध गुण

0
92

नींबू एक औषधि के रूप में किया जाता है। नींबू आपकी सब्जी की टोकरी में हमेशा पाए जाने वाली चीज है। ये नींबू जितना आपका खाने का जायका बढाता है उतनी ही आपकी सौंदर्य को भी बढता है। यह खट्टा फल विटामिन सी, विटामिन बी, फॉस्फोरस और कार्बोहाइड्रेड से भरपूर है। नींबू का रस अम्ल और प्राकृतिक चीनी से भरपूर है। नींबू के रस में पाये जाने वाले पोषक तत्व आपकी त्वचा और बालों को स्वस्थ रखने में सहायता कर सकते हैं।

यह अंदर से स्वास्थ्य और बाहर से आपकी त्वचा की देखभाल करता है। नींबू का प्राकृतिक अम्ल मृत त्वचा कोशिकाओं को हटाता है, उम्र के चिन्हों, अनचाही झुर्रियों को हल्का करता है और चेहरे पर आये मुहांसों और निशानों को साफ करता है। गर्मी के दिनों अक्सर चक्कर आ रहे हों या उल्टी आ रही हों तो नींबू के टुकडे पर काला नमक, काली मिर्च लगाकर खाने से चक्कर आने बंद हो जाते हैं और उल्टी भी बंद हो जाती है।

बदहजमी होने पर नींबू काटकर उसकी फांक या छोटे टुकडे में काला नमक लगाकर चूसने से आराम आता है। जिनको भूख कम लगती है और पेट दर्द की शिकायत रहती है उनको नींबू की फांक में काला या सेंधा नमक लगाकर उसको तवे पर गर्म करके चूसने से ना केवल दर्द में आराम मिलता है बल्कि भूख भी खुलकर लगती है।

एक गिलास पानी में एक नींबू का रस निचोडकर एक चम्मम चीनी पीसकर मिलाकर पीने से हैजे जैसा रोग भी ठीक हो जाता है। यदि मालिश ना भी करें तो सिर धोने के पानी में दो नींबू निचोडकर एक हफ्ता लगातार प्रयोग करने से बाल मुलायम होते हैं, उनका झाडना कम होता है और खुश्की या रूसी भी कम होती है।

सुबह स्नान करने से पहले नींबू के छिलकों को चेहरे पर धीरे-धीरे मलकर 2-3 मिनट बाद चेहरे को पानी से धो लें। इसे 1० -15 दिन लगाता करने से चेहरे का रंग साफ हो जाता है। यह बाजार में मिलने वाले किसी ब्लीचिंग क्रीम या ब्यूटी पालर में कराए जाने वाले ब्लीच का काम करेगा। नींबू का रस और गुलाब जल समान मात्रा में मिलाकर चेहरे पर लगाएं, कुछ दिनों के लगातार प्रयोग से चेहरा बेदाग और स्किन कोमल व स्वच्छ हो जाती है।

नींबू और तुलसी की पत्तियों का रस समान मात्रा में मिलाकर किसी कांच के बर्तन में रख लें और दिन में कम से कम दो बार हल्के हाथ से चेहरे पर लगाएं। कुछ दिन के लगाकर इस्तेमाल से चेहरे पर झाइयां या किसी भी प्रकार के निशान मिट जाते हैं। (आरएनएस)

LEAVE A REPLY