इसी माह बन जायेगी पीसीसी

0
123

मुख्य संवाददाता
देहरादून। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने जिस तेजी से पूर्वाध्यक्ष किशोर उपाध्याय के नेतृत्व वाली प्रदेश कांग्रेेस कमेटी को भंग किया था,उस तेजी से उसके पुनर्गठन का काम नही हो पाया है।

हालांकि प्रीतम सिंह के घनिष्ठ नेता दावा कर रहे हैं कि अध्यक्ष कांग्रेस कमेटी संभावित नामों पर तेजी से विचार कर रहे हैं और आश्चर्य नहीं होना चाहिये कि प्रदेश कांग्रेस कमेटी का गठन इसी माह विधानसभा के बजट सत्रा के तत्काल बाद हो जाये। ऐसा इसलिये क्योंकि प्रीतम सिंह पिछले सत्र में भी नेता प्रतिपक्ष के साथ सदन में भी बेहद सक्रिय भूमिका निभाते दिखे हैं।
एक बातचीत में प्रीतम सिंह के नजदीकियों ने सफाई दी कि इस आक्षेप में कोई दम नही है कि पिछली कमेटी इसलिये आनन फानन में भंग की गई थी कि उसमें पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत के नजदीकियों का बोलबाला था। इन नेताओं का कहना था कि स्वयं प्रीतम सिंह के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत से अच्छे कार्यकारी संबंध थे।

स्वयं प्रीतम सिंह का कहना है कि नई प्रदेश कमेटी में कसौटी केवल एक होगी कि संगठन का काम आगे बढे, कार्यकर्ताओं में खोया जोश वापस आये और सत्तारूढ़ भाजपा पर निगरानी की जिम्मेदारी प्रभावी ढंग से निभाई जा सके। उन्होंने संकेत दिया है कि अगर किसी कारण विधानसभा के बजट सत्र से तत्काल बाद प्रदेश कांग्रेस कमेटी की घोषणा संभव नही हो पाई तो पिफर इसमें अगस्त तक का समय लग सकता है।

LEAVE A REPLY