काबुल में भारतीय दूतावास के पास जोरदार धमाका, ६५ की मौत

0
115

काबुल। काबुल के राजनयिक क्षेत्र में आज शक्तिशाली बम विस्फोट हुआ जिसमें ६५ लोग मारे गए और ३२५ लोग घायल हो गये। यह विस्फोट सुबह के व्यस्त समय में हुआ। घटनास्थल पर शव बिखरे पड़े थे और क्षेत्र से घना धुंआ निकल रहा था। इस इलाके में कई देशों के दूतावास हैं।

अभी यह साफ नहीं है कि इस विस्फोट का निशाना कौन था। प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि दर्जनों कारें सड़क पर ही फंस गईं क्योंकि घायल लोग और घबराई स्कूली छात्राएं सुरक्षा के लिए उनकी आड़ ले रही थीं जबकि अपने प्रियजनों को खोजने के लिए महिलाएं और पुरूष सुरक्षा जांच से निकलने के लिए संघर्ष कर रहे थे।

गृह मंत्रालय के प्रवक्ता नजीब दानिश ने बताया कि सुबह आठ बजकर २५ मिनट पर एक च्कार बमज् में विस्फोट हुआ। उन्होंने बताया कि कम से कम ६५ लोग मारे गए। हालांकि उन्होंने हताहतों की संख्या बताने में असमर्थता जताई। स्वास्थ्य मंत्रालय के एक प्रवक्ता ने कहा कि काबुल के अस्पतालों में ३०० से ज्यादा घायल लोगों को लाया गया है और उनमें से अधिकतर आम नागरिक हैं। उन्होंने कहा, हमें अभी तक मृतकों की संख्या पता नहीं है।

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने ट्वीट किया, काबुल में हुए शक्तिशाली विस्फोट में ईश्वर की कृपा से भारतीय दूतावास के कर्मचारी सुरक्षित हैं। घटनास्थल के नजदीक स्थित दूतावासों में भारतीय दूतावास भी है। हमले की जिम्मेदारी तत्काल किसी ने नहीं ली है लेकिन फिर से सिर उठा रहा तालिबान अपने हमले तेज कर रहा है।

अफगानिस्तान की राजधानी में हाल में हुए कई बम विस्फोटों की जिम्मेदारी इस्लामिक स्टेट समूह ने ली है। इसमें तीन मई को नाटो के बख्तरबंद काफिले को निशाना बनाकर किया गया शक्तिशाली बम विस्फोट भी शमिल है जिसमें कम से कम आठ लोगों की मौत हो गई थी जबकि २८ लोग घायल हो गए थे।

LEAVE A REPLY