बिना डॉक्टर के प्रिस्क्रिप्शन के दवाईयां न बेची जाये: पुष्पक

0
33

नगर संवाददाता
देहरादून। एडीजी राम सिंह मीना ने आज पुलिस लाईन सभागार में केमिस्ट एसोसिएशन पदाधिकारियों व देहरादून के सभी केमिस्ट व्यापारियों की बैठक ली। जिसमें देहरादून को नशा मुक्त बनाने में विस्तारपूर्वक चर्चा की गयी।

बैठक में उपमहानिरीक्षक गढवाल परिक्षेत्र पुष्पक ज्योति पुलिस द्वारा बताया गया कि देहरादून जो पहले एजुकेशन हब के नाम से जाना जाता था वो आज ड्रग हब की ओर जा रहा है। युवा वर्ग आसानी से ड्रग्स की चपेट में आ रहा है। आज का युवा वर्ग द्वारा तरह-तरह के इन्जेक्शन, आयोडेक्स, थिनर, कोरेक्स सिरप, व्हाटनर, फेवीबांड, चरस, गांजा, अफीम, स्मैक आदि का प्रयोग नशे के रुप में करता है। सभी ड्रग्स की श्रेणी में आते है।

उन्होंने सभी कैमिस्ट व्यापारियों से अनुरोध किया है कि अपने-अपने क्षेत्रों में बिना डॉक्टर के प्रिस्क्रिप्शन के दवाईयां न बेची जाये और न बेचने दें। खासकर स्कूलों व कॉलेजों के सौ मीटर के दायरें में नशे से सम्बन्धित कोई भी सामान न बिके।

उन्होंने वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक देहरादून को निर्देशित कर पुलिस अधीक्षक नगर नोडल अधिकारी ड्रग निरीक्षक के साथ संयुक्त टीम बनाकर एक सप्ताह का ड्रग्स के अवैध कारोबार पर विशेष अभियान चलाकर देहरादून के सभी स्कूलों व कालेजो के बाहर व सभी केमिस्ट शॉप में सघन चेंकिग अभियान के निर्देश दिये।

LEAVE A REPLY