डा. सुजाता संजय का नाम इंडिया बुक ऑपफ रिकॉर्डस में शामिल

0
104

नगर संवाददाता
देहरादून। पांच वर्षों 187 से अधिक निशुल्क स्वास्थ्य परामर्श शिविरों में पांच हजार पांच सौ से अधिक मरीजों को स्वास्थ्य लाभ देने के डा. सुजाता संजय के कीर्तिमान को इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्डस में शामिल किया गया है।

आज प्रेस क्लब में पत्रकारों को इस संबंध में जानकारी देते हुए डा. सुजाता संजय ने बताया कि अप्रैल 2015 से लेकर सितंबर 2016 तक मात्र सत्रह महीने में 76 से अधिक रेडियो पर अपने स्वास्थ्य संबंधी कार्यक्रम किये। राज्य में महिलाओं की स्वास्थ्य स्थिति को ठीक करने के लिए वर्ष 2010 में निशुल्क स्वास्थ्य परामर्श शिविर करने का लक्ष्य रखा था।

महिलाएं अपने घर-परिवार की देखरेख व पारिवारिक समस्याओं के चलते अपने स्वास्थ्य को अनदेखा कर देती हैं जिसकी वजह से उनको शारीरिक परेशानियां घेर लेती हैं। इसको देखते हुए उन्होंने देहरादून के आसपास और पर्वतीय क्षेत्रों में जा कर निशुल्क स्वास्थ्य परीक्षण किया। इंडिया बुक ऑफ रिकार्ड ने आईबीआर 2017 में उनके कार्यों को शामिल किया है।

उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा अभी भी दूरस्थ क्षेत्रों में स्वास्थ्य सुविधा मुहैया कराना कठिन कार्य है। जिसको देखते हुए उन्होंने रेडियो के माध्यम से ऐसे क्षेत्रों में महिलाओं को स्वास्थ्य लाभ दिलाने का प्रयास किया। वे रेडियो के माध्यम से महिलाओं को स्वास्थ्य के प्रति जागरूक करती हैं और एसएमएस या दूरभाष के माध्यम से उनकी स्वास्थ्य समस्याओं को सुन कर रेडियो के माध्यम से परामर्श देती हैं।

डा. सुजाता संजय ने वर्ष 2012 में एक गुर्दा प्रत्यारोपित महिला का सफलतापूर्वक प्रसव कराया था। डा.सुजाता के नाम पर यह भी एक रिकार्ड ही है कि उनके नाम चार रिकार्ड इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्डस में दर्ज हुए हैं।

LEAVE A REPLY