केदारनाथ यात्रा सम्मान और गर्व का विषय: मंगेश

0
5

रुद्रप्रयाग। नवनियुक्त जिलाधिकारी मंगेश घिल्डियाल ने तीर्थयात्रा के साथ ही आधारभूत सुविधाओं के लिए खाका खींच लिया है। जिलाधिकारी ने सुरक्षित, सुलभ और शांति से केदारनाथ यात्रा संचालित करने को अपनी प्राथमिकता बताया और कहा कि केदारनाथ यात्रा हमारे के लिए सम्मान और गर्व का विषय है।

जिला मुख्यालय में अपने कार्यालय में पत्रकारों से वार्ता करते हुए जिलाधिकारी मंगेश घिल्डियाल ने कहा कि तीर्थयात्रियों और पर्यटकों की समस्या का निस्तारण किया जाएगा। यात्रियों के ट्रांसपोर्टेशन, शौचालय, हाइपोथर्मिया की समस्या को देखते हुए संबंधित विभागीय अधिकारियों की बैठक ली गई है।

यात्रा पड़ावों पर बनाए गए मेडिकल कैंपों में प्रशासन कंबल की भी व्यवस्था कर रहा है। ताकि रास्ते में बारिश होने पर यात्रियों को मेडिकल कैंपों में राहत मिल सके। यात्रा को बेहतर संचालित करने और सकारात्मक यात्रा के लिए बदरी-केदार मंदिर समिति से भ वार्ता की जाएगी। अधिक से अधिक यात्रियों को एक दिन में दर्शन कराया जाएगा।

केदारनाथ में यात्रियों का अधिक दबाव बनने पर यात्रियों को नीचे लिनचौली सहित अन्य पड़ावों पर सुरक्षित लाया जाएगा। आवश्यकता पड़ेगी तो केदारनाथ में कुछ टेंट और हट्स और लगाए जाएंगे। श्री घिल्डियाल ने पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए कहा कि हेलीकप्टर कंपनियों की मनमानी पर रोक लगाने के लिए प्रत्येक हेलीपैड पर एक सरकारी कर्मचारी की तैनाती की जा रही है। ताकि यात्री संबंधित कर्मचारी से अपनी शिकायत दर्ज कर सके।

यात्रा में पुराने हेलीकप्टर चल रहे हैं तो इसके लिए डीजीसीए से पत्राचार किया जाएगा। साथ ही घोड़े-खच्चरों की मनमानी और यात्रियों से दुर्व्यवहार पर भी एक्शन लिया जाएगा।

जिलाधिकारी ने गांवों के प्रति अपनी प्राथमिकता गिनाते हुए कहा किशिक्षा, स्वास्थ्य, बिजली और ग्रामीण विकास पर विशेष ध्यान रहेगा। हयर एजुकेशन और ग्रामीण क्षेत्रों में स्वास्थ्य सेवा पटरी पर लाई जाएगी। बिजली और पानी को लेकर निर्धारित टाइम लाइन फिक्स की जाएगी।

उन्होंने यह भी कहा कि निर्माण कार्यों में पारदर्शिता के लिए विभागों से प्रजेंटेशन मांगी जाएगी। इस मौके पर एसपी प्रह्लाद नारायण मीणा, गढ़वाल अपर आयुक्त ड हरक सिंह रावत आदि मौजूद थे। (आरएनएस)

LEAVE A REPLY