शीघ्र दुकान बंद न हुई तो बद्रीनाथ हाईवे पर होगा जाम

0
66

रुद्रप्रयाग। रुद्रप्रयाग में अंग्रेजी शराब की दुकान खोलने का विरोध कम नहीं हो रहा है। जहां-जहां शराब की दुकानें खुल रही हैं, महिलाएं वहीं धमक कर शराब की दुकानों को बंद करवा रही हैं। मंगलवार को महिलाओं ने जिला मुख्यालय में पैट्रोल पंप के नीचे खुली शराब की दुकान में पहुंचकर हंगामा करते हुये शराब की दुकान को बंद करा दिया। महिलाओं का विरोध इतना तेज था कि उन्होंने पुलिस अधिकारियों एवं जवानों को भी नहीं बख्शा।

दरअसल, जिला मुख्यालय में पुराने पिक्चर हॉल पर अंग्रेजी शराब की दुकान खोली गई। मंगलवार को जैसे ही महिलाओं को शराब की दुकान खुलने की भनक लगी तो भारी संख्या में महिलाएं शराब की दुकान में पहुंची और हंगामा शुरू कर दिया और घंटों तक शराब की दुकान के बाहर धरना दिया। आक्रोशित महिलाओं ने कहा कि रुद्रप्रयाग चारधाम यात्रा का मुख्य पड़ाव है।
यहां हर रोज लाखों यात्री आते हैं। शराब व्यवसायी बद्रीनाथ हाईवे के नीचे शराब की दुकान खोल रहे हैं, जिससे यात्रियों की आस्था को ठेस पहुंच रही हैं।

महिलाओं ने कहा कि शराब का कारोबार बढऩे से बाजार का सामाजिक परिवेश भी बिगड़ जायेगा। महिलाओं ने चेतावनी देते हुये कहा कि यदि शराब की दुकान को बंद नहीं किया गया तो आंदोलन को तेज करते हुये बद्रीनाथ हाईवे पर चक्काजाम किया जायेगा। इस मौके पर रेखा चौधरी, सुनिता बुटोला, भुवनेश्वरी किमोठी, लक्ष्मी शर्मा, ज्योती भट्ट, सुनीता रावत, खुशहाल सिंह रावत, युवा नेता विक्रांत खन्ना, सुनीता देवी, मंजू देवी, शैलेन्द्र गोस्वामी सहित कई मौजूद थे।

वहीं दूसरी ओर बसुकेदार शराब की दुकान के विरोध में भी महिलाएं सड़कों पर उतरी। डालसिंगी गांव की महिला मंगल दल की महिलाओं एवं युवक मंगल दल के युवकों ने मंदिर मार्ग पर शराब की दुकान खोले जाने पर जमकर विरोध किया। इस दौरान आंदोलित ग्रामीणों ने तहसील प्रशासन को ज्ञापन सौंपते हुये कहा कि यदि शीइा्र ही यहां से शराब की दुकान नहीं हटाई जाती है तो आंदोलन को ओर तेज किया जायेगा। उन्होंने कहा कि शराब माफिया मानकों की अनदेखी करके शराब की दुकानें खोल रहे हैं। इस मौके महिला मंगल दल अध्यक्ष वीना देवी, उषा देवी, इंदू देवी, शकुंतला देवी, हरि भजन सिंह, दीपक सिंह, भगवती भटट, कैलाश भटट, विपिन भटट सहित अन्य मौजूद थे।(आरएनएस)]]

LEAVE A REPLY