दून को जाम से नहीं मिल रही मुक्ति

0
104

नगर संवाददाता
देहरादून। दून में सप्ताह की शुरूआत सड़कों पर जाम के साथ होती है। सुबह से लेकर शाम तक दूनवासी जाम से ही जूझते रहते हैं। बड़े-बड़े दावों के इसके बावजूद जाम से दूनवासियों को निजात नहीं मिल पा रही है।

दून में सोमवार लोगों के लिए मुसीबत ले कर आता है। सप्ताह के पहले दिन से ही लोग जाम से जूझने लगते हैं। सुबह से लेकर शाम तक शहर की सड़कों पर जाम लगा रहता है। अब तो कोई भी दिन हो जाम का झाम सड़कों पर नजर आ ही जाता है। आज सप्ताह के दूसरे दिन भी दून की सड़कें वाहनों से पैक रही। एक तो चिलचिलाती धूप और उस पर गाडि़यों का शोर, जाम में फंसे लोग। सड़कों पर इतने वाहनों को देख कर प्रतीत होता है कि सारे शहर के लोग एक साथ अपने वाहनों को लेकर सड़कों पर उतर आये हैं। हर तरफ बस जाम ही जाम लेकिन यातायात विभाग फिर भी केवल दावे ही करता रहता है। पुलिस कप्तान से लेकर यातायात पुलिस अधीक्षक तक यातायात को नियंत्रित करने के लिए सिर खपा चुके हैं लेकिन कोई समाधान नहीं निकल पाया है।

ये हाल शहर में हो ऐसा भी नहीं है। शहर से बाहर की ओर जाने वाले मार्गों में भी जाम से बुरा हाल है। मोहकमपुर, आईएसबीटी, निरंजनपुर मण्डी, रायपुर रोड हर तरफ सुबह से लेकर शाम तक जाम ही जाम दिखाई देता है।

मोहकमपुर में फ्लाईओवर निर्माण कार्य चल रहा है। हालांकि वाहनों के निकलने के लिए रास्ता कापफी है लेकिन यहां पर रेलवे क्रासिंग होने के कारण जाम की स्थिति बन जाती है। रेलवे फाटक पर रोड संकरी है और एक समय में दो वाहन ही आ-जा सकते हैं लेकिन फिर भी दोपहिया वाहन चालक बीच में घुस जाते हैं या फिर चौपहिया वाहन चालक जल्दीबाजी में निकलने के चक्कर में जाम ही लगा देते हैं।

आज सुबह दस बजे के लगभग भी मोहकमपुर में लगभग एक-ड़ेढ़ किलोमीटर लम्बा जाम लगा हुआ थाा। वाहन इतनी धीमी गति से चल रहे थे कि लोगों को उस जाम से पार पाना भी मुश्किल ही लग रहा था लेकिन इस जाम को खुलवाने के लिए वहां पर एक भी पुलिसकर्मी मौजूद नहीं था।

ऐसा ही हाल निरंजनपुर मण्डी से लेकर आईएसबीटी तक दिखाई दिया। सुबह से ही वहां पर जाम लगा हुआ था। निरंजनपुर मण्डी से लेकर आईएसबीटी तक वाहन रेंग-रेंग कर चल रहे थे। इसी तरह से रायपुर रोड का भी हाल दिखाई दिया। सर्वे चौक से जो जाम लगना शुरू हुआ तो रायपुर थाने के पास जा कर इस जाम से मुक्ति मिली।

खासकर चूना भट्टा और रायपुर थाने से पहले गुरूद्वारे के पास तो जाम की स्थिति इतनी बदतर होती है कि जाम खुलने में घंटों लग जाते हैं।

LEAVE A REPLY