मांगों को लेकर टॉवर पर चढ़ा छात्र

0
78

नगर संवाददाता
देहरादून। डीएवी पीजी कॉलेज छात्रसंघ द्वारा विभिन्न मांगों को लेकर अपना अनशन आज चौथे दिन भी जारी रखी।

डीएवी पीजी कॉलेज में छात्रसंघ के पदाधिकारियों द्वारा विभिन्न मांगों को लेकर चार दिनों से भूख हड़ताल की जा रही है। आंदोलनरत छात्रसंघ पदाधिकारियों का कहना है कि प्राचार्य से छात्रसंघ द्वारा जानकारी मांगी गयी थी कि विगत कई वर्षों से महाविद्यालय में छात्र-छात्राओं से फीस के रूप में अलग-अलग मदों में विकास के नाम पर जो धनराशि ली गयी लेकिन इसमें से एक भी मद में कोई पैसा खर्च नहीं किया गया। ना ही इस धनराशि का कोई ब्यौरा दिया गया। छात्रसंघ द्वारा प्राचार्य से अब तक ली गयी धनराशि के संबंध में जानकारी मांगी गयी थी लेकिन अब तक कोई जवाब नहीं दिया गया जिसकी वजह से उन्हें भूख हड़ताल पर बैठने के लिए बाध्य होना पड़ा है।

उनका कहना था कि हेमवती नंदन बहुगुणा गढ़वाल विवि केन्द्रीय वि.वि. होने के कारण डीएवी पीजी कॉलेज में सेमेस्टर सिस्टम लागू हो चुका है लेकिन विवि सेमेस्टर सिस्टम को लागू करने में पूरी तरह से विफल रहा है। उन्होंने मांग की है कि दयानंद शिक्षण संस्थान कानपुर डीएवी महाविद्यालय के संदर्भ में विगत 20-30 वर्षों के सभी खातों का सरकार द्वारा ऑडिट करवाया जाये।

महाविद्यालय एक दान की भूमि पर चल रहा है जिसमें दयानंद शिक्षण संस्थान कानपुर हर वर्ष लाखों रूपये की उगाही डीएवी महाविद्यालय से करता है। डीएवी में कर्मचारियों की नियुक्ति कानपुर मैनेजमेंट द्वारा की जाती है। सरकार को इस मामले में जांच कर संस्थान के खिलापफ कार्यवाही करनी चाहिए। छात्रासंघ द्वारा मांग की गयी है कि सरकार डीएवी महाविद्यालय का अधिग्रहण कर अपने अधीन करे जिससे संस्थान द्वारा छात्रों का शोषण बंद हो सके।

इस दौरान राजपुर विधानसभा क्षेत्र के विधायक खजानदास भी डीएवी पीजी कॉलेज पहुंचे और छात्रों के साथ धरने पर बैठे। उन्होंने कहा कि छात्रों की कॉलेज के हित में उठायी जा रही मांगों को वे भी समर्थन देते हैं और इनका निस्तारण करवाने में हर तरह से सहयोग करेंगे।

आश्वासन पर नीचे उतरा
देहरादून। वहीं मांगों पर कोई कार्यवाही न होने से नाराज आर्यन छात्रा संगठन से जुड़ा एक छात्रा आज कॉलेज के समीप स्थित टॉवर पर चढ़ गया। छात्रा के टॉवर पर चढ़ने की सूचना से प्रशासन में हड़कंप मच गया।
आज सुबह सवा नौ बजे के लगभग आर्यन छात्रा संगठन से जुड़ा छात्रा शूरवीर सिंह चौहान कॉलेज के समीप स्थित एक टॉवर पर चढ़ गया। छात्रों के आंदोलन के दौरान इस तरह की सूचना से पुलिस प्रशासन में भी हड़कंप मच गया। पुलिस ने छात्रा शूरवीर सिंह चौहान को नीचे उतारने का प्रयास किया लेकिन वह नहीं माना और वहीं बैठ कर भूख हड़ताल जारी रखने का ऐलान किया। इसी बीच छात्रा नेताओं को सूचना मिली कि उनसे वार्ता करने के लिए उच्च शिक्षा मत्रंाी आने वाले हैं जिसके बाद अन्य पदाधिकारियों ने आर्यन संगठन से वार्ता कर टॉवर पर चढ़े छात्रा को समझाया। जिसके बाद वह नीचे उतर आया।

LEAVE A REPLY