‘उद्योग एसोसिएशन की समस्याएं स्थानीय आधार पर हों निस्तारित’

0
6

नगर संवाददाता
देहरादून। बीजापुर अतिथि गृह हाउस में सचिव सूक्ष्म एवं लघु उद्योग (एम.एस.एम.ई) भारत सरकार के.के जालान की अध्यक्षता में उत्तराखण्ड राज्य में एम.एस.एम.ई कार्यक्रम की समीक्षा बैठक आयोजित की गयी।
बैठक में उद्योग विभाग द्वारा एम.एस.एम.ई क्षेत्र में अर्जित की गयी उपलब्धियों को सचिव केन्द्र सराकर से साझा किया। जिस पर सचिव द्वारा भारत सरकार सहायतित योजनाओं प्रधानमंत्री स्वरोजगार कार्यक्रम तथा अन्य कार्यक्रमों में राज्य द्वारा अखिल भारतीय स्तर पर की गयी प्रगति तथा ईज अब डूईंग बिजनेस के अधीन किये गये सुधारों की सरहाना की।

सचिव भारत सरकार ने भारत सरकार के मंत्रालय की राज्य स्तर पर स्पूर्ति योजनाओं माइक्रो इन्टरप्राईजेज, ग्रामीण उद्योग शहद/मौन पालन, सघन पौध, फ्लोरी कल्चर, उद्यानिकी आदि योजनाएं जो पर्यावरण फ्रेंडली होने के साथ-2 स्थानीय स्तर पर रोजगार सृजन को प्रोत्साहित करती हो को कलस्टर आधारित बनाते हुए लागू करने के निर्देश दिये।

इस तरह की स्पूर्ति इनोवेशन योजनाओं को पूर्ण करने में केन्द्र सरकार के स्तर से हर सम्भव सहायता देने का आश्वासन दिया। उन्होने एम.एस.एम.ई क्षेत्र के अधीन ईकाईयों को डाटा बैंक में पंजीकृत करने हेतु वर्कशाप आयोजित करने के निर्देश दिये। उन्होंने स्थानीय इण्ड्रस्ट्रियल उद्योग एसोसिएशन के सदस्यों द्वारा जी.एस.टी के इम्पलिमेंट तथा एम.एस.एम.ई के क्षेत्र में आने वाली रूकावटों को दूर करने का आश्वासन देते हुए सम्बन्धित मंत्रालय से समन्वय करते हुए इसकी कार्यशाला आयोजित करने को कहा, साथ ही स्थानीय स्तर पर उद्योग एसोसिएशन की समस्याओं का राज्य स्तर पर समाधान के लिए उद्योग निदेशालय को निर्देश दिये।

LEAVE A REPLY