विद्यार्थियों के लिए वाहनों को सीएम ने दिखाई हरी झंडी

0
99

नगर संवाददाता
देहरादून। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत आज हंस कल्चरल सेंटर एवं हंस फाउण्डेशन द्वारा राजेश्वरी करूणा शिक्षा योजना के अंतर्गत विद्यालयों को वाहन उपलब्ध कराये जाने हेतु आयोजित कार्यक्रम में शामिल हुए।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने भोले महाराज एवं माता मंगला का आभार प्रकट करते हुए कहा कि हंस कल्चरल सेंटर एवं दि हंस फाउण्डेशन राज्य के विकास में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है। उन्होंने कहा कि दूर-दराज के क्षेत्रों में विद्यार्थियों को आवागमन में कठिनाई होती है। भोले महाराज एवं माता मंगला द्वारा विद्यालयों को वाहन उपलब्ध करा कर गरीब छात्र-छात्राओं को दिया गया।

उन्होंने कहा कि माता मंगला एवं भोले महाराज द्वारा पूरे भारतवर्ष में सामाजिक कार्य किये जा रहे हैं। गुजरात में अक्षयपात्र योजना के अंतर्गत लगभग 1.5 लाख बच्चों को मिड डे मील उपलब्ध कराया जाता है। सतपुली व हरिद्वार में अंतर्राष्ट्रीय स्तर का मल्टीस्पेशियलिस्ट अस्पताल बनाये जा रहे हैं, जो कुछ माह में बनकर तैयार हो जाएंगे।

मुख्यमंत्री रावत ने कहा कि वाहनों की उपलब्धता से दूर-दराज से आने वाले छात्रा-छात्राएं अपने अध्ययन पर ध्यान दे सकेंगे। उन्होंने आगे कहा कि राज्य सरकार भी प्रदेश के विकास के लिये लगातार प्रयास कर रही है। शिक्षा के क्षेत्र में सुधार हेतु राज्य सरकार प्रतिबद्ध है। शिक्षा में सुधार हेतु अध्यापकों की शीघ्र नियुक्ति की जाएगी। प्रभारी सचिव एवं प्रभारी मंत्रियों द्वारा अपने-अपने क्षेत्रों में भ्रमण कर यह भी सुनिश्चित किया जाएगा कि विद्यालयों में पठन-पाठन का कार्य सही प्रकार से हो रहा है।

मुख्यमंत्री रावत ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा ‘बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ’, ‘स्वच्छ भारत’ एवं ‘नमामि गंगे’ योजनाओं को शुरू किया गया है। ‘बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ’ शुरू करने के उपरान्त लिंगानुपात में काफी सुधार आया है। उन्होंने नागरिकों से इन योजनाओं में सहयोग कर राष्ट्र के विकास में भागीदार बनने का अनुरोध किया।

कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री रावत ने सरस्वती विद्या मंदिर इंटर कालेज, तिमली, पौड़ी गढ़वाल एवं सरस्वती शिशु मंदिर, नया बाजार, पिथौरागढ़ को उपलब्ध कराए गए विद्यालय वाहनों को हरी झण्डी दिखाकर विद्यालयों के लिए रवाना किया। गौरतलब है कि हंस कल्चरल सेंटर द्वारा 10 विद्यालयों को विद्यालय वाहन उपलब्ध कराए जाने हैं।

इस अवसर पर सचिव हंस कल्चरल सेंटर चंदन सिंह भण्डारी, प्रभारी प्रदीप राणा सहित विद्यालयों के प्रधानाचार्य उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY