चारधाम यात्री रहेें सावधान

0
111

हमारे संवाददाता
देहरादून। चारधाम यात्रा के धमाकेदार स्टार्ट अप को लेकर सरकार जहां एक ओर अत्यन्त उत्साहित है वहीं श्रद्धालुओं के सैलाब को संभालने की चुनौतियों को लेकर शासन-प्रशासन अब चिंतित दिखाई दे रहा है। यात्रा मार्गो पर जन सुविधाओं की खामियों की खबरों के बीच मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत जहां अधिकारियों को अपनी सुरक्षा व्यवस्थाओं और तैयारियों की पुनः समीक्षा करने के आदेश दिये है वहीं राज्य के मौसम विभाग द्वारा 10 मई से 15 मई के बीच यात्रा क्षेत्रों में वर्षा और बर्फबारी की चेतावनी देते हुए यात्रियों को अहतियात बरतने के निर्देश दिये है।

चारधाम यात्रा को शुरू हुए अभी महज 12 दिन ही हुए है लेकिन अब तक लगभग दो लाख श्रद्धालुओं का चारधामों में पहुंचना यह बताता है कि इस बार बड़ी संख्या में श्रद्धालू चारधाम पहुंचने वाले है। सबसे अधिक दबाव बद्रीनाथ व केदारनाथ धाम में है।

महज तीन दिन में सवा लाख यात्री बद्रीनाथ पहुंच चुके है। श्रद्धालुओं की भीड़ के आगे यहां जन सुविधाएँ व व्यवस्थाएं चरमराने की खबरों के बीच मुख्यमंत्री ने अध्किरियों को तैयारियों का पुनः जायजा लेने व उन्हे सुधारने का निर्देश दिया है यात्रियों को पेयजल तथा भोजन की व्यवस्था तथा शौचालय व्यवस्था पर विशेष ध्यान देने को कहा गया है।

उधर मौसम विभाग के निदेशक विक्रम सिंह का कहना है कि आने वाले 5-6 दिनों में राज्य के भीतरी हिस्सों यानि कि चारधाम यात्रा क्षेत्र वाले जिलों में कहीं हल्की या भारी बारिश होगी। राज्य के उत्तरकाशी, चमोली, बागेश्वर तथा पिथौरागढ़ जनपदों में वर्षा की संभावना जताई गयी है। उनका कहना है कि कुछ स्थानों पर बर्फबारी भी हो सकती है चारधाम यात्रा सीजन के मद्देनजर उन्होने चारधाम यात्रियों से सावधानी बरतने को कहा गया है। शासन द्वारा भी मौसम विभाग की चेतावनी को गम्भीरता से लिया गया है। शासन ने सभी जिलों के अधिकारियों को सर्तकता बरतने को कहा गया है।

चारधाम यात्रा पर आये श्रद्धालुओं की बढ़ती संख्या के मद्देनजर शासन द्वारा एक बार पुनः यात्रा की व्यवस्थाओं की समीक्षा करने व खामियों को दूर करने को कहा गया है। 2013 की आपदा के जख्म जैसे-तैसे भरे है तथा इस साल यात्रा अपने पुराने रंग में दिख रही है लेकिन व्यवस्थाओं को दुरस्त बनाये रखने की बड़ी चुनौती सरकार के सामने है। इस साल 20 से 25 लाख के बीच श्रद्धालुओं के चारधाम यात्रा पर आने की संभावना जताई जा रही है।

LEAVE A REPLY