लोगों को आकर्षित करने का मुख्यमंत्री हरीश रावत का अपना अंदाज

2
261
मुख्यमंत्री हरीश रावत का अपना अंदाज
मुख्यमंत्री हरीश रावत का अपना अंदाज

लोगों के बीच पहुंचकर बात करने और संपर्क कर अपनी ओर आकर्षित करने का मुख्यमंत्री हरीश रावत का अपना अंदाज है। शनिवार को मौका भी था और दस्तूर भी। रावत पूरी तरह सैर सपाटे की मुद्रा में नजर आ रहे थे।

विवाह समारोह में शामिल होने आए मुख्यमंत्री बाजार में घूमे, लोगों से मिले और एक ठेले से मूंगफली खरीद कर खाई। केक कटवाकर एक बच्ची का जन्मदिन मनवाया और उसके 12वें जन्मदिन को यादगार बना दिया।

मुख्यमंत्री हरीश रावत शनिवार को शाम लगभग पांच बजे आर्मी हेलीपैड पहुंचे। रावत को दो विवाह समारोह में प्रतिभाग करना था। हेलीपैड से उन्हें सीधे सर्किट हाउस जाना था। हेलीपैड से काफिला बाहर आते ही उन्होंने गाड़ियों का रुख बाजार की ओर करवा दिया।

ओके होटल के पास गाड़ी से उतर गए और दल-बल के साथ पैदल ही भ्रमण पर चल पड़े। रामलीला मैदान के पास गुरुद्वारे के बगल से जगन्नाथ गली में सबसे मिलते-जुलते हुए जामा मस्जिद के पास पहुंच गए। जामा मस्जिद के पास हीरा चाट भंडार में बर्गर खाया।

वहां से फिर चले तो दुकानों के अंदर जाकर लोगों से मुलाकात की। इस बीच युवक एवं युवतियों ने मुख्यमंत्री को अपने बीच पाकर सेल्फी कराने का कोई भी मौका नहीं छोड़ा। सीएम ने मीरा मार्ग में भी सभी से मुलाकात की और कुछ पुराने लोगों के साथ पुराने दिन याद किए साथ ही बताया कि परिवार में वह व्यक्तिगत तौर पर किसको-किसको जानते हैं।

इसके बाद मुख्यमंत्री फल मंडी पहुंचे और फल की दुकानों पर भी लोगों से मिले। उन्होंने सेब, अनार, मौसमी, संतरा, किन्नू, पपीता आदि के दाम भी पूछे। इसके बाद सिंधी चौराहे पर लोगों से मुलाकात की और सेल्फी कराई।

पंडित चाट हाउस पर पहुंचकर गर्मागर्म जलेबी का लुत्फ उठाया। इसी दौरान मोमो खा रही विनीता पंत ने मुख्यमंत्री से मोमो खाने के लिए आग्रह किया। मुख्यमंत्री ने विनीता को निराश नहीं किया और मोमो का भी स्वाद मिर्च वाली चटनी के साथ लिया।मोमो खाते ही मुख्यमंत्री बोल पड़े ओह हो ‘इसने तो ईजा बाबू की याद दिला दी’। उन्होंने चाट हाउस के मालिक अनुराग शर्मा से भी कुछ देर बात की। इसके बाद सीएम स्टैंडर्ड स्वीट हाउस में चले गए। मुख्यमंत्री ने यहां पर दही बड़े का आनंद लिया।

स्टैंडर्ड स्वीट हाउस में नवाबी रोड निवासी ज्ञान स्वरूप ग्रोवर की पुत्री सुगंधा ग्रोवर का 12वां जन्मदिन मनाया जा रहा था। सुगंधा ने मुख्यमंत्री से केक काटने का आग्रह कर दिया। फिर क्या था मुख्यमंत्री ने बच्ची की बात मानने में एक मिनट भी नहीं लगाया।

मुख्यमंत्री के साथ सुगंधा ने केक काटा। सुगंधा ने मुख्यमंत्री से कहा थैंक्यू अंकल आपने मेरा जन्मदिन यादगार बना दिया। मुख्यमंत्री स्वीट हाउस से निकलकर पैदल ही अब्दुल्ला बिल्डिंग की ओर बढ़े। मुख्यमंत्री सब्जी मंडी के भीतर पहुंच गए और लोगों से बातचीत की।

अम्बेडकर के संविधान से ही जुड़ा मेरा कटा सिर: हरीश रावत

Video