मोहम्मदपुर झाल से पंजाब पुलिस की वर्दी मिलने के बाद…

प्रदेश के कई जिले पंजाब पुलिस की रडार पर

0
229
पंजाब पुलिस की वर्दी मिलने के बाद…
पंजाब पुलिस की वर्दी मिलने के बाद…

रुड़की। मोहम्मदपुर झाल में पंजाब पुलिस की वर्दी मिलने के बाद अब प्रदेश के कुछ जिले पंजाब पुलिस के रडार पर हैं। पंजाब पुलिस की टीम स्थानीय पुलिस की मदद से इन क्षेत्रों के बारे में जानकारी जुटा रही है। स्थानीय पुलिस को संदेह है कि फरार होने वाले संदिग्ध किच्छा और बाजपुर में शरण ले सकते हैं। वहां की पुलिस से भी संपर्क साधा जा रहा है। पूर्व में इन जगहों पर खालिस्तान लिब्रेशन फ्रंट के आतंकवादी दहशत मचा चुके हैं।
रुड़की क्षेत्र में वर्दी मिलने से आशंका जताई जा रही है कि या तो संदिग्ध आसपास ठिकाना बनाकर रुके हैं या फिर यहां से होकर निकले हैं। पुलिस इन तमाम संभावनाओं को ध्यान में रखते हुए मामले की जांच कर रही है। पंजाब पुलिस भी दो दिन से यहां डेरा डाले हैं। पंजाब पुलिस की टीम स्थानीय पुलिस के साथ इस ऑपरेशन को अंजाम दे रही है। पुलिस को आशंका है कि हो ना हो संदिग्ध आतंकी आसपास ही कुछ देर के लिए रुके होंगे।
इसे देखते हुए पंजाब पुलिस नारसन के आसपास के गांवों पर भी पैनी नजर रखे है। स्थानीय पुलिस से भी मदद ली जा रही है। इसके अलावा बाजपुर, किच्छा, उधमसिंह नगर की पुलिस से भी स्थानीय पुलिस संपर्क में है। लंबे और गठीले बदन के संदिग्धों को इन जगहों पर छिपाने में आसानी हो सकती है। इसलिए इन जगहों पर भी पुलिस की नजर है। इसके अलावा हरिद्वार जिले का पथरी क्षेत्र भी पंजाब पुलिस के रडार पर है।

झाले पर भी खुफिया नजर

कुमाऊं में भी किच्छा बाजपुर, सितारगंज आदि जगहों पर झाले (खेतो के अंदर बने आवास) हैं। पुलिस को आशंका है कि इस तरह के स्थान इन संदिग्धों के छिपने का मुफिद स्थान हो सकता है। जिसे देखते हुए स्थानीय पुलिस ने वहां की पुलिस को इस तरह की झाले पर नजर रखने को कहा है। वहां पर तैनात रह चुके पुलिसकर्मियों की भी इसमे विशेष मदद ली जा रही है।

बीटी गंज कालोनी में पहुचे थे पंजाब पुलिस के दो वर्दीधारी

नाभा जेल ब्रेक की घटना के दो दिन बाद मंगलवार को रुड़की की बीटी गंज कॉलोनी में पंजाब पुलिस की वर्दी में दो लोग देखे गये थे। यह दोनों एक रेडीमेड की दुकान पर पहुंचे और कारोबारी से किसी का पता पूछा था।
गुरुवार को कारोबारी ने खुफिया विभाग से यह जानकारी साझा की। पुलिस ने इसके बाद कारोबारी और आसपास में लगे सीसीटीवी फुटेज को खंगाला। इस बीच, पंजाब पुलिस की एक टीम ने गुरुवार को मंगलौर में बैग मिलने वाले स्थान का निरीक्षण किया। टीम ने रुड़की में भी पुलिस अधिकारियों से जानकारी जुटाई। पुलिस टीम जेल ब्रेक में इस्तेमाल हुई होंडा सिटी कार को भी ट्रेस करने में लगी रही लेकिन सफलता नहीं मिली।
नाभा जेल ब्रेक के बाद से पूरे देश में अलर्ट है। हमलावर पंजाब पुलिस की वर्दी में आए थे। इसके बाद से हर जगह इनकी तलाश की जा रही है। गंगनहर से वर्दी बरामद होने के बाद पंजाब की सीआइए की टीम ने भी गुरुवार को रुड़की में डेरा डाला लिया। इधर, खुफिया विभाग को सूचना मिली कि मंगलवार को पंजाब पुलिस की वर्दी में दो लोग रुड़की की बीटी गंज कॉलोनी में एक गारमेंट शॉप पर गए थे।
इनमें से एक ने दारोगा की वर्दी पहनी थी जबकि दूसरा सिविल ड्रेस में था। खुफिया विभाग और पुलिस की टीम ने कारोबारी और आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों में संदिग्धों के हुलियों के बारे में जानकारी जुटाई। हालांकि अभी तक कारोबारी यह नहीं बता पाया है कि यह लोग किसका पता पूछ रहे थे। सीसीटीवी फुटेज कब्जे में ली जा रही है। सीओ स्वप्न किशोर ने बताया कि पंजाब और स्थानीय पुलिस इस मामले में जांच कर रही है। किसी भी बात का अभी खुलासा नहीं किया जा सकता।

Video

LEAVE A REPLY