अम्बेडकर के संविधान से ही जुड़ा मेरा कटा सिर: हरीश रावत

प्रदेश की खाली पड़ी आरक्षित सीटों को सौ प्रतिशत भरा जायेगा

1
222
अम्बेडकर के संविधान से ही जुड़ा मेरा कटा सिर हरीश रावत
अम्बेडकर के संविधान से ही जुड़ा मेरा कटा सिर हरीश रावत

रुड़की/झबरेडा। मुख्यमंत्री हरीश रावत ने कहा कि प्रदेश में खाली पड़ी आरक्षित सीटों को सौ प्रतिशत भरा जाएगा। इसमें कहीं कोई कमी नहीं छोड़ी जाएगी। संविधान निर्माता डा. बी.आर अम्बेड़कर को वह महान मानते है। उनकी बदौलत ही उनका कटा हुआ सिर दोबारा से जुड़ पाया। संवैधानिक व्यवस्था के तहत ही हाईकोर्ट ने उन्हे दोबारा सीएम बनाया है।

मोदी सरकार पहले ही लोकतंत्र का गला घोंटकर प्रदेश में राजनीतिक संकट खड़ा करने का प्रयास कर चुकी है।
झबरेड़ा में दलित महा सम्मेलन में पहुंचे सीएम हरीश रावत ने कहा कि कांग्रेस हमेशा से दलित, अल्पसंख्यको का सम्मान करती आई है। डा. अम्बेड़कर के दिए संविधान और कांग्रेस सरकारों की बदौलत ही दलित समाज आज शिक्षा, रोजगार व राजनीति के क्षेत्र में आगे बढ़ पाए है।

अम्बेड़कर का लिखा संविधान दुनिया में सर्वाधिक है

हरीश रावत
हरीश रावत

हरीश रावत ने कहा कि डा. अम्बेड़कर वास्तव में विश्व में सबसे विद्वान रहे है। संविधान की रचना कर अम्बेड़कर ने विश्व में भारत को सबसे ऊंचा दर्जा दिलाया। अम्बेड़कर का लिखा संविधान दुनिया में सर्वाधिक है। डा. अम्बेड़कर ने संविधान में हर किसी को बराबर सम्मान और बराबर का हक दिया है। सीएम ने कहा कि अम्बेड़कर के दिए संविधान की बदौलत ही आज वह सीएम है। अम्बेड़कर संविधान में यह लोकतंत्र की व्यवस्था न देते तो लोकतंत्र की हत्यारिन भाजपा 8 माह पहले ही उनसे लोकतांत्रिक व्यवस्था का अधिकार छीन लेती। संविधान में दी गई लोकतांत्रिक व्यवस्था की बदौलत ही हाईकोर्ट ने दोबारा से उनके कटे हुए सिर को जोड़ा है।

सीएम ने कहा कि वह डा. अम्बेड़कर और उनके दिए संविधान का सबसे ज्यादा सम्मान करते है। सीएम ने गरीब, किसान, युवाओं के हित को चलाई गई योजनाओं को भी गिनाया। रावत ने कहा कि उन्होने प्रदेश में पेंशन एक हजार से बढ़ाकर तीन हजार रुपये करने का कदम उठाया। जिसकी बदौलत में आज पेंशनधारक आराम से अपना गुजारा कर पा रहे है। सीएम ने दलितों से प्रदेश व समाज के विकास को एकजुट होने का भी आहवान किया।

एससी आयोग के राष्ट्रीय अध्यक्ष पीएल पुनिया ने कहा कि संवैधानिक व्यवस्था को बेहतर ढंग से चलाने और दलितों के अधिकारों की रक्षा को कांग्रेस का सत्ता में बने रहना जरूरी है। कार्यक्रम आयोजक एवं अनुसूचित विभाग के प्रदेशाध्यक्ष सुशील पेंगोवाल ने कहा कि कांग्रेस ही केवल दलितों के अधिकारों की रक्षा कर सकती है। इस अवसर पर विधायक ममता राकेश, नगर पंचायत चेयरमैन डा. गौरव चौधरी, हज कमेटी चेयरमैन हाजी राव शेर मोहम्मद, पूर्व विधायक काजी निजामुद्दीन, किरण पाल वाल्मिकी, कांग्रेस प्रदेश प्रवक्ता गोपाल नारसन आदि मौजूद रहे।

लोगों को आकर्षित करने का मुख्यमंत्री हरीश रावत का अपना अंदाज